Wednesday, June 26, 2024
More
    होमराज्योंदिल्लीप्रधानमंत्री मोदी ने 14 अगस्त को विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस के रूप...

    प्रधानमंत्री मोदी ने 14 अगस्त को विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस के रूप में मनाया जाने की घोषणा की…

    नई दिल्ली: शनिवार 14 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 1947 में हुए भारत-पाकिस्तान के विभाजन को विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस के रूप में मनाया जाने की घोषणा किया. मोदी ने ट्वीट कर देशवासियों को यह जानकारी दी. अपने ट्वीट में कहा कि विभाजन और उसके बाद हुई हिंसा इतिहास का दुखद हिस्सा है। विभाजन के दौरान लाखों लोगों का विस्थापन, हत्याएं और बलात्कार आज भी ज्वलंत हैं और इस दिन को मनाना उनके बलिदानों की पहचान है।

    भारत के स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले की प्राचीर से राष्ट्र को संबोधित करने से एक दिन पहले, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने घोषणा की कि 14 अगस्त को विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस के रूप में मनाया जाएगा। गैरतलब है कि पाकिस्तान 14 अगस्त को अपना स्वतंत्रता दिवस मनाता है।

    source: प्रधानमंत्री मोदी ट्वीट

    “विभाजन के दर्द को कभी भुलाया नहीं जा सकता। हमारी लाखों बहनें और भाई बेघर हो गए थे और नासमझ, नफरत और हिंसा के कारण कई लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी थी। हमारे लोगों के संघर्षों और बलिदानों की याद में, 14 अगस्त को यह दिवस मनाया जाएगा”.

    अपने एक अन्य ट्वीट में, उन्होंने कहा कि विभाजन के दौरान हुई हिंसा से सबक लिया जाना चाहिए ताकि सद्भाव और मानव सशक्तिकरण को और बढ़ाया जा सके। “#PartitionHorrorsRemembranceDay हमें सामाजिक विभाजन, असामंजस्य के जहर को दूर करने और एकता, सामाजिक सद्भाव और मानव सशक्तिकरण की भावना को और मजबूत करने की आवश्यकता की याद दिलाता रहे।”

    source: प्रधानमंत्री मोदी ट्वीट

    14 अगस्त को विभाजन विभीषिका स्मरण दिवस के रूप में मनाने के निर्णय, सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विदेशी मामलों के विभाग के प्रभारी विजय चौथवाले ने कहा कि यह विभाजन की विभीषिका और इसके बाद हुई हिंसा को स्वीकार करने का समय है।

    संबंधित आलेख

    कोई जवाब दें

    कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
    कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

    सबसे लोकप्रिय