Friday, June 14, 2024
More
    होमउत्तर प्रदेशदेशभर के मंदिर सजे, आज मनाई जाएगी श्रीकृष्ण जन्माष्टमी, पीएम ने...

    देशभर के मंदिर सजे, आज मनाई जाएगी श्रीकृष्ण जन्माष्टमी, पीएम ने दी देशवासियों को बधाई

    आज पूरे देश में जन्माष्टमी का पर्व बड़े ही धुमधाम से मनाया जाएगा। यह पर्व योगेश्वर भगवान श्री कृष्ण के जन्मोत्सव के रूप में मनाते हैं। उत्तर प्रदेश एवं अन्य राज्यों में भी इस पर्व की प्रासंगिकता बहुत अधिक है। इसी उपलक्ष्य में प्रदेश भर के मंदिर सजने के साथ ही तीर्थ की परम धाम मथुरा नगरी के मंदिर भी सजाई जाएंगी।

    इस अवसर पर पीएम मोदी ने भी सभी देशवासियों को शुभकामनाएं दी। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि, ‘सभी देशवासियों को जन्माष्टमी के पावन-पुनीत अवसर पर हार्दिक शुभकामनाएं। भक्ति और उल्लास का यह उत्सव हर किसी के जीवन में सुख, समृद्धि और सौभाग्य लेकर आए। जय श्रीकृष्ण!’

    Narendra Modi @Twitter

    इसी क्रम में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने भी ट्विट कर कृष्ण जन्माष्टमी की शुभकामना देते हुए उन्होंने लिखा कि, ‘श्रीकृष्ण जन्माष्टमी’ की सभी प्रदेश वासियों एवं श्रद्धालुओं को हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं। धर्म स्थापना, लोक-संरक्षण, शांति व सामूहिकता के प्रति अखिल विश्व-चेतना का पथ-प्रदर्शित करने वाले, यशोदानंदन, भुवन मोहन कन्हैया चराचर जगत का कल्याण करें, यही कामना है। जय श्रीकृष्ण!

    Yogi Adityanath @Twitter

    मथुरा नगरी की बात करें तो बांकेबिहारी मंदिर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर मध्यरात्रि 12 बजे ठाकुर बांकेबिहारीजी के श्रीविग्रह का दूध, दही, बूरा, शहद और घी से अभिषेक किया जाएगा। इसके उपरान्त कान्हा को पीले वस्त्र धारण करायी जाएगी।

    मंदिर के सेवक ने जानकारी देते हुए कहा कि रात्रि लगभग 2 बजे मंगला आरती गायी जाएगी और विशेष थालों में भगवान को भोग भी लगाए जाएंगे। इधर श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर वृंदावन में श्रीकृष्ण भक्तों की संख्या में वृद्धि होने लगी है। इस पवित्र पर्व के उत्सव में शामिल होने के लिए हजारों भक्तगण एवं श्रद्धालुओं के जनसमूह का मथुरा धाम में आना प्रारंभ हो गया है।

    वहीं प्रेम मंदिर में भी श्रीकृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव को अति हर्षोल्लास से मनाने की तैयारी है। 19 अगस्त को सायं से मध्यरात्रि तक अनेक धार्मिक अनुष्ठान को विधि-सम्मत नियमों से वेदपाठी ब्राह्मणों के दृष्टिगत संपन्न कराई जाएगी। भगवान श्री कृष्ण के जन्म के पावन उत्सव के उपलक्ष्य में प्रेम मंदिर को भव्य रूप से सजाया गया है। विभिन्न रंगों के प्रकाश में सराबोर प्रेम मंदिर की छटा अपने आप में अद्भूत प्रतीत हो रही है।

    जन्माष्टमी पर्व पर ठाकुर बांकेबिहारी मंदिर में दर्शन करने वालों के लिए वनवे  व्यवस्था होगी। श्रद्धालुओं को गेट संख्या 2 और 3 से अंदर जाने की अनुमति होगी और दर्शन के पश्चात गेट संख्या 1 और 4 से बाहर निकलने दिया जाएगा।

    संबंधित आलेख

    कोई जवाब दें

    कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
    कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

    सबसे लोकप्रिय